ZEE TV  समाचार समझना सीखिये

(पहले समाचार सुनकर समझने की कोशिश कीजिये, और फिर टेक्स्ट पढ़िये)

 

1.

एक रोबोट भी orchestra का संचालन कर सकता है। जी हां, अमेरीका में एक रोबोट ने बाज़ाबता (על פי הכללים) न केवल orchestra का संचालन किया बल्कि धुन पर थिरककर लोगों का दिल भी जीत लिया। इस रोबोट की ऊंचाई चार फ़िट तीन इंच है। हालांकि संगीत सिखाने में उसकी महारत को देखकर बड़े बड़े भी उंगली दबा रहे हैं।

     Honda Motor Corporation के असीमो नाम के इस रोबोट को देखने के लिये दूर दूर से लोग यहां आ रहे हैं। असीमो इस रोबोट का नाम है और अच्छा अच्छा असीमो संगीत सिखा सकता है।

 

संचालन करना -  לנהל, להנחות, לנצח (תזמורת)

थिरकना -  לרקוד קצת 

जीतना -  לנצח 

हालांकि -  ובכל זאת  

महारत -  מיומנות   

उंगली दबाना -  להיות מופתע   

 

2.

 

रुपये को भी अब अपना निशान होगा। केबिनेट ने आज रुपये को एक नये निशान की मनज़ूरी दे दी है। इसे IT (Information technology) के प्रोफ़ेसर डी. उदय कुमार ने design किया है। रुपये का यह निशान अगले छः महीनों में लागू हो जाएगा। पाकिस्तान, नेपाल और श्रीलंका रुपये से अलग पहचान दिलाने के लिये भारत सरकार ने इस नये निशान की पहल की है।

   इस निशान को पहचान लीजिये। इस निशान से अब आप का वास्ता हर रोज़ पड़ सकता है। क्योंकि यही निशान होगा आपके रुपये की नयी पहचान। पहले जहां भी आप रुपये के लिये अंग्रेज़ी के RS का इस्तेमाल करते थे, अब इसी प्रतीक ने उसकी जगह ले ली है।

   सत्य है इसमें ‘’ है, ‘’ रुपया, रूपी, रुपये के लिये। और आप देख सकते हैं कि सीधी लाइन के बगैर रोमन R भी आ जाता है। और जो ऊपर की दो Horizontal lines हैं, वह equal  कि यह equal to one rupee

   यह निशान डी. उदय कुमार ने design किया है। डी. उदय कुमार IT के प्रोफ़ेसर हैं। अगले छः महीने में यह निशान लागू हो जाएगा। दरासल भारत सरकार काफ़ी दिनों से रुपये की अंतर्राष्ट्रीय पहचान की कोशिशों में जुटी थी। इसी के मद्दे-नज़र जनता से डीज़ायन मांगे गये थे। सरकार की कोशिश थी कि निशान ऐसा हो कि जिसमें भारत और भारतीयता की पहचान मिले, और आख़िरकार डी. उदय कुमार के निशान में सरकार को भारतीयता की झलक मिल ही गयी।

   जो पांच अंतिम डीज़ाइन चुने गये थे जूरी के द्वारा, उन पांचों में से सरकार को अधिकृत किया गया था अंतिम डीज़ाइन चुनने के लिये। और सरकार ने यह डीज़ाइन, जो डी. उदय कुमार द्वारा submit किया गया था, उसको चुना है।

   अब अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में भारतीय रुपया भी अमेरिकी डॉलर, ब्रिटिश पाउंड, यूरोपीयन यूरो और जापानी येन को बराबर की टक्कर देगा। 

 

3.

-         Your Honour, अब मैं  Mrs. Sonia को witness box में बुलाने की इजाज़त चाहूंगी।

-         इजाज़त है।

-         Mrs. Sonia, सब से पहले आप यह बताइये, कि आपकी मुलाकात मिस्टर राज मल्होतरा से कब और कहां हुई थी?

-         I object, My Lord, क्या ऐसे सवाल सौ बार किये जाएंगे? मेरी client एक बार बता चुकी है कि...

-         Your Honour, मैं जानती हूं, Mrs. Sonia इस सवाल का जवाब दे चुकी है।

-         हां तो?

-         लेकिन सही जवाब अब देंगी।

-         Objection overruled.

-         Thank you Your Honour. हां, Mrs. Sonia, तो आप सब से पहले मिस्टर राज मल्होतरा से कब और कहां मिलीं?

-         जैसे मैं पहले भी बता चुकी हूं, राज से मेरी पहली मुलाकात कंपनी के annual day function पर हुई थी।

-         आपकी याददाश्त कमज़ोर हो गयी है या जान-बूझ कर आप कुछ छुपा रही हैं?... मैं बताती हूं। आपकी मुलाकात मिस्टर राज मल्होतरा से पांच साल पहले South Africa के Cape Town में हुई थी। याद आया?

-         हो सकता है। मैं कितने लोगों से मिलती हूं।

-         एक casual मुलाकात हुई होगी।

-         वह मुलाकात इतनी casual नहीं थी, Mrs. Sonia, जो मिले और बिछड़ गये। उस मुलाकात के बाद आप दोनों में affair हो गया था।

-         और इसके गवाह हैं Cape Town के MTN mobile के staff। उन्हें इस कोर्ट में इस बात की गवाही देने के लिये बुलाया भी जा सकता है।  

-         Fine, that was just a passing affair.  मैं बिल्कुल serious नहीं थी। कमाल है! आप एक passing affair में भी वह सब कर बैठी, जिसे करने के लिये एक लड़की सौ बार सोचेगी।

-         मैंने ऐसा क्या किया है, Mrs. मल्होतरा?

-         उस passing affair मे आप pregnant हुईं और abortion  भी करवाया।

-         यह सब झूठ है। यह सब राज मुझे सिर्फ़ बदनाम करने के लिये गढ़ा। This is ridiculous.  

-         मेरे पास Cape Town के उस nursing home की report है, जहां आपने abortion करवाया। ... Your Honour, यह रही Mrs. Sonia के abortion की report. ... Mrs. Sonia, अगर मिस्टर राज के साथ आपका passing affair था, तो फिर वह बच्चा किसका था? बोलिये। एक औरत, चाहे जितनी modern क्यों न हो  जाए, उसको इतना तो पता है कि उसके बच्चे का बाप कौन है। या तो फिर आपकी इतनी affairs रही होंगी कि आपको समझ नहीं आ रहा कि उस बच्चे का असली बाप कौन है?

-         Shut up, you bitch!

-         Mrs. Sonia, bitch वह होती है, जिसको अपने बच्चे के बाप का पता नहीं होता, जैसे आपको पता नहीं है!

-         मुझे पता है! वह राज का बच्चा था!

-         That’s it! Point to be noted, Your Honour, जिस Mr.Raj पे Mrs. Sonia rape attempt का इलज़ाम लगा रही है, उनके साथ महीनों सो चुकी है, pregnant हो चुकी है और उनके बच्चे को भी गिरा चुकी है।

 

 

इजाज़त -  רשות  

याददाश्त -  זיכרון  

जान-बूझ कर -  בכוונה   

बिछड़ना - להיפרד 

गवाह -  עד ראיה  

गवाही -   עדות 

बदनाम करना -  להשמיץ

गढ़ना – להמציא דברים, לשקר   

इलज़ाम -  אשמה

बच्चा गिराना -  להפיל ילד  

 

4.

बृजमंडल की इस यात्रा के क्रम में हम लोग सब से पहले वृंदावन पहुंचते हैं। वृंदावन, अत्यंत प्राचीन स्थानों में से एक है, जिसके उल्लेख से अनेक प्राचीन साहित्य भरे पड़े हैं। वृंदावन तीन ओर से यमुना नदी से घिरा हुआ है। एक तरह से यमुना जी वृंदावन को अपने आंचल में समेटे हुए है। यह संयोग अत्यंत शुभ और दुर्लभ है। वृंदावन के नामकरण के संबंध में अनेक मत हैं। वृंदावन में तुलसी के पौधे बहुत पाए जाते हैं। और तुलसी को वृंदा भी कहते हैं। संभवतः इसी लिये स्थान को वृंदावन कहा गया। इसके अलावा यह भी मान्यता है कि इस वन की प्रमुख देवी का नाम वृंदा है। इस लिये भी इसे वृंदावन का नाम मिला। इसी प्रकार ब्रह्मवैवर्त पुराण में कहा गया है कि राजा केदार की पुत्री वृंदा ने इसी वन में घोर तपस्या की थी, जिसके फलस्वरूप इस स्थान को वृंदावन कहा गया। इस संबंध में एक और मत भी है। इसके मुताबिक श्री राधा जी के सोलहों में से एक नाम वृंदा भी है। वृंदावन यात्रा में सब से पहले हम पहुंचते हैं ISCKON temple के नाम से सुप्रसिद्ध इस भव्य मंदिर में।

 

बृजमंडल -  אזור של ברג'  

क्रम - סדר  

अत्यंत -  מאד, באופן יוצא מן הכלל 

उल्लेख - תזכורת  

भरे पड़े हैं -  מלאים 

घिरना -  להיות מוקף 

एक तरह से -  כאילו

आंचल – קצה של סארי  

समेटना -  לאסוף, לספוג לתוכו

संयोग – צירוף מקרים 

दुर्लभ -  נדיר, קשה להסגה

नामकरण – נתינת שם 

मत - דעה 

पाए जाते हैं -  נמצאים

ब्रह्मवैवर्त पुराण – אחד מ18 ספרי הדת ההינדואיסטית העתיקים, בעלי חשיבות מיוחדת

घोर -  קשה

भव्य -  נפלא

 

5.

भगवान केदारनाथ के कपाट मंत्रोच्चारण के बीच खुल गये हैं। मंदिर के पाट खुलने के बाद श्रद्धालू भगवान रणनाथ के दर्शन कर पाएंगे। इससे पहले बाबा केदर ईश्वर की ख़ास पूजा-अरचना की गयी। इस ख़ास मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालू वहां पर मौजूद थे। केदारनाथ उत्तराखंड के चार धामों में से एक है। इस मौके पर उत्तराखंड के मुख्य मंत्री निशंक भी मौजूद थे।

    हिमालय की गोद में बसा केदारनाथ, शिव का धाम केदारनाथ, मंदाकिनी नदी के किनारे पर बसा पवित्तर धाम केदारनाथ। शिव का वास यह साढ़े तीन हज़ार मीटर से भी ऊंची हिमालय श्रिंखला के बीच एकांत में बसा केदारनाथ। भगवान शिव को केदार के नाम से भी जाना जाता है। इसी लिये इस धाम का नाम पड़ा केदारनाथ। शिव के इस मंदिर को द्वापर युग में पांडवों ने बनाया था। लेकिन इसे फिर से स्थापित किया आदि गुरू शंकराचार्य ने। चार धामों में से इस धाम की यात्रा सब से कठिन है, क्योंकि केदारनाथ के दर्शनों के लिये गौरीकुंड से चौदह किलोमीटर का मुश्किल सफ़र पैदल ही तय करना पड़ता है। जो भक्त पैदल नहीं चल पाते, वह घोड़े की सवारी या फिर पालकी के ज़रिये यह सफ़र पारा कर सकते हैं। यह अलग बात है कि कठिन सफ़र के बाद पहाड़ी रास्तों की थकान केदारनाथ धाम में कल-कल करती मनदाकिनी के दर्शन मात्र से दूर हो जाती है। एक हज़ार साल से भी पुराने इस मंदिर के बाहर नान्दी की एक विशाल प्रतिमा है। इसी प्रतिमा के ठीक सामने है गर्भगृह जहां सदा शिव केदारनाथ के रूप में बिराजमान है। केदार ईश्वर के दर्शन के लिये है मंदिर परिसर में एक मंडप जहां विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। इस धाम में भगवान शिव का लिंग कुमुर्ति आकार का है। मान्यता है कि यहां शिव ने पांडवों को केदार सुरूप या भेंसे के रूप में दर्शन दिये थे। भीम ने जब शिव को इस रूप में पकड़ना चाहा, तो उनके हाथ भेंसे का पिछला हिस्सा ही आया। जब्कि भेंसे के आगे के पैर, मुख, नाभी और जटा अलग अलग जगह पर बिखर गयी। इन पांचों जगहों पर शिव को अलग अलग नाम से पुकारा जाता है। केदारनाथ, तुंगनाथ, रुद्रनाथ, मधमहेश्वर और कल्पेश्वर। शिव के इन स्वरूपों को पांच महेश्वर भी कहा जाता है। बारह ज्योतिरलिंगों में से एक केदार ईश्वर के दर्शनों के लिये देश-विदेश से हर साल सैकड़ों भक्त आते हैं। अगर आप केदारनाथ के दर्शनों के लिये आयें, तो मुख्य मंदिर के ठीक पीछे आदि गुरू शंकराचार्य की समाधि के दर्शन ज़रूर करें। चार धामों की स्थापना के बाद आदिगुरू शंकराचार्य ने बत्तीस साल की उम्र में इसी जगह पर समाधि ली थी। 

 

6.

 

बुरक़े से ख़ाकी तक। यही दास्तान है सूरत की यासमीन शैख़ की। यासमीन अपनी मेहनत के बूते बनने जा रही है गुजरात पुलिस फ़ोर्स में पहली महिला मुस्लिम डी०एस०पी Deputy Superintendent of Police (DSP)

   यासमीन आज पूरे सूरत की शान है। यासमीन यानी कामयाबी की वह दास्तान, जो एक रूढ़िवादी मुस्लिम परिवार में लिखी गई। यासमीन जल्द ही गुजरात पुलिस में DSP बन जाएंगी।  बचपन से पढ़ाई में गहरी दिलचस्पी रखनेवाली यासमीन के केरियर की शुरुआत एक प्राइवेट इस्कूल में टीचर के तौर पर हुई। इस दौरान उसकी शादी भी हो गयी। लेकिन यासमीन ने पढ़ाई जारी रखी। उसने गुजराती और हिंदी लीटेरचर में गोल्ड मेडल के साथ एम०ए० किया। अब गुजरात public service में महिला श्रेणी में top 15 में आनेवाली यासमीन जल्द ही बन जाएंगी गुजरात की पहली महिला मुस्लिम DSP

  - इसके बाद इंटर्व्यू हुआ। उस वक्त मेरी physically हालत भी इतनी अच्छी नहीं थी। लेकिन इसके बावजूद भी मैंने हिम्मत नहीं हारी। मैंने सोचा कि जब तक मेरा निश्चय मज़बूत रहेगा, मेरा संकल्प मज़बूत रहेगा, मुझे कोई हरा नहीं सकता।

   एक पूर्व शिक्षक की यह बेटी पढ़ाई लिखाई में तेज़ होने के साथ साथ अपने मज़हब और पारिवारिक संस्कार से पूरी तैर पर जुड़ी हुई है। किसी भी मुस्लिम महिला की तरह नमाज़ और बंदगी करती है, परिवार के साथ पूरा वक्त बिताती है। ज़ाहिर है, यीसमीन की इस कामयाबी पर घरवालों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं है।

   -  मुझे बहुत ख़ुशी होती है और मैं यह चाहता हूं कि मेरी बच्ची आगे चलकर अपने देश का, अपने मुल्क का नाम रोशन करे और ख़ुद आगे बढ़े और दूसरों को आगे बढ़ने की प्रेरणा दे।

   मगर बुरके से ख़ाकी तक का सफ़र करनेवाली यासमीन की ख़्वाख़िशें और भी हैं। वह चाहती है कि दूसरी मुस्लिम महिलाएं भी बुरके से बाहिर निकलें और समाज की सेवा में अपना योगदान दें।  

 

बुरक़ा - רעלה 

ख़ाकी – מדים בצבע חאקי 

दास्तान -  סיפור

सूरत -  שם העיר בגוג'ראת

मेहनत - עבודה 

के बूते -   הודות ל-, בזכות-, על שמך- 

शान - גאווה 

कामयाबी -  הצלחה

रूढ़िवादी -  שמרני

के तौर पर -  בתור

इस दौरान -  בינתיים 

जारी रखना -  להמשיך

श्रेणी -  שורה, דרגה 

के बावजूद -   למרות

हिम्मत -  אומץ

हिम्मत हारना -  להתייאש

मज़बूत - חזק 

संकल्प – כוונה, החלטה 

हराना – לנצח, להביס 

पूर्व -  לשעבר

मज़हब -  דת

पारिवारिक -  משפחתי

संस्कार -  ערך, חינוך 

बंदगी करना -  לסגוד

ज़ाहिर है -  ברור 

ख़ुशी का ठिकाना नहीं है – מאושר עד הגג 

नाम रोशन करना – להלל את שמו של- 

प्रेरणा - עידוד  

ख़्वाख़िश -  רצון

योगदान देना -  לתרום  

 

7.

दिल ने कर लिया एतबार
हमको हो गया तुमसे प्यार
जब से मिले हो मुझे जाने जाना
तब से है जाना क्या है दिल का लगाना
ये अदाएं तेरी कर गयीं मुझे दीवाना

मौका दिल ने दिया ही नहीं
प्यार हुआ कब पता नहीं
बन के मुकद्दर तुम आए
कहीं नज़र न लग जाए

चैन हो तुम, आराम हो तुम
इस दिल का आरमान हो तुम
मेरी सुबह-ओ-शाम हो तुम
जान मेरी, पहचान हो तुम


 

 

     एतबार करना -- להודות
जाने जाना (जानेजां) - יקר כחיים (אהוב) 
दिल का लगाना - לאהוב 
अदाएं -- אופן ההתנהגות 
कर गयीं मुझे - הפכו אותי ל- 
मौका - הזדמנות 
मुकद्दर - גורל 
बन के मुकद्दर तुम आए - באת כמו גורל
नज़र लगना - (להידבק) עין הרע 
चैन - שקט נפשי 
आरमान - חלום 
सुबह-ओ-शाम - בוקר וערב
पहचान - זהות

 

8.

 

-          शादी मुबारक हो, मिस्टर करण।

-          शुक्रिया।

-          मिस्टर करण, एक छोटे से डांस ग्रूप से इस बंगले की तरक्की का श्रेय किसे जाता है? आपकी मेहनत को या आपकी किस्मत को?

-          मेरी तरक्की का श्रेय सिर्फ़ प्रिया को जाता है। मैंने तो सिर्फ़ बड़े बड़े सपने देखे थे। अगर इनका साथ नहीं होता, तो कभी पूरे नहीं होते।

-          आप बहुत lucky हैं missis मल्होत्रा, आपके husband ने अपनी सफलता का पूरा क्रेडिट आपको दिया है।

-          यह तो इनका प्यार है। वैसे मैंने कुछ नहीं किया। मैं सिर्फ़ उसी रास्ते पे चली हूं, जो इन्होंने मुझे बताया।

 

-          करण हम कितने ख़ुशनसीब हैं। जो कुछ भी हमने चाहा, वह सब कुछ हमारे पास है।

-          मेरी सब से बड़ी ख़ुशनसीबी यह है कि तुम मेरे पास हो।

-          करण, क्या तुम हमेशा मुझसे उतना ही प्यार करते रहोगे? क्या तुम हमेशा मुझे इसी तरह चाहोगे?

-          उठो प्रिया, आठ बज गये हैं। rehearsal  पे जाना है।

-          करण, यह तुम्हारी आवाज़ को क्या हो गया?

-          करण? प्रिया मैं करण नहीं, काजल हूं। चल, उठ प्रिया। प्रिया, उठ! प्रिया उठ न, प्रिया!

-          तू?! अरे यार काजल, इतना अच्छा सपना देख रही थी। क्यों जगा दिया मुझे?

-          करण कब से तुम्हारा इंतिज़ार नीचे कर रहा है!

-          क्या?

-          चलो!

 

 

9.

 

-          तो आइये, हम आपको मिलवाते हैं मिस्टर कैलाश नाथ मल्होत्रा से।

-          नमश्कार।

-          आज हम आपसे वह बातें जानना चाहते हैं जो दुनिया नहीं जानती।

-          अगर सब के सामने बताने की होंगी, तो ज़रूर बताऊंगा।

-          ओ-के, सब से पहले हम आपके परिवार के बारे में जानना चाहते हैं।

-          मेरा परिवार तो बहुत बड़ा है। एक बेटा है, बहू है, एक पोता है, और कुछ रिश्तेदार हैं जो हमारे साथ ही रहते हैं। मैं अभी आपको उनसे मिलवाता हूं। आओ भई, आओ।... हां, बैठो। यह है मेरा बेटा रंजीत।

-          हेलो

-          नमश्कार

-          यह है मेरी बहू आशा

-          नमस्ते

-          नमस्ते

-          और यह है रंजीत के साले साहिब पंकज। और उनकी पतनी कंचन।

-          नमस्ते

-          और बाकी सब मेरा स्टाफ़ है।

-          नमस्ते

-          मल्होत्रा साहिब, generally देखा गया कि joint family में अनबन रहती है। आपके family के सुख और शान्ति का रहस्य क्या है?

-          Simple सी बात है जी। Business मेरा बेटा संभालता है, और उसमें उसकी मदद करता है उसका साला, और घर का मोर्चा संभालती है बहू, और इसमें उसकी मदद करती है कंचन।

-          और इन सबको संभालता हूं मैं।

 

मिलवाना -  לעשות הכרות

अगर सब के सामने बताने की होंगी -  אם מותר להגיד אותם לאוזני כולם

पोता -  נכד

बहू – אשתו של בן  

साला -  אח של אישה

बाकी -  השאר

अनबन -  ריב, ויכוח 

सुख  -  אושר  

रहस्य -   סוד

संभालना  -  לנהל, לקחת בידיו

मोर्चा -  חזית

10.

 

       

   फ़िल्म 'मुसाफ़िर' (2004)               

ज़िंदगी में कोई कभी आए न रब्बा

आए जो कोई तो फिर जाए न रब्बा
देने हों गर मुझे बाद में आंसू

तो पहले कोई हंसाए न रब्बा -2

जाते जाते कोई मेरी ख़ुशियों को ले गया
सूनी सूनी अखियों को ग़म कोई दे गया
आस जो लगाई है, आंख भर आई है -2
इतना भी कोई सताए न रब्बा

ज़िंदगी में कोई कभी आए न रब्बा


दिल लेनेवाले पे ज़ोर नहीं चलता
प्यार का यह सिक्का कहीं और नहीं चलता
याद तेरी आई है, तू हरजाई है -2
इतना भी कोई तड़पाए न रब्बा
ज़िंदगी में कोई कभी आए न रब्बा

आए जो कोई तो फिर जाए न रब्बा
देने हों गर मुझे बाद में आंसू

तो पहले कोई हंसाए न रब्बा -2

 

11.

 

-          हलो

-          हलो, नेहा

-          आकाश?

-          सो रही थीं?

-          नहीं

-          कुछ पढ़ रही थीं?

-          नहीं

-          तो फिर कुछ सोच रही होगी

-          हां, कोई ख़ास बात

-          किसी ख़ास इंसान के बारे में?

-          हां

-          इजाज़त हो, तो पूछ सकता हूं, कौन है वह ख़ुशनसीब, जिसके बारे में नेहा माथुर ग्यारह बजकर दो मिनट में सोच रही है?

-          कह दूं?

-          हां, कह दो

-          तुम्हारे बारे में सोच रही थी।

-          अच्छा? क्या सोच रही थी?

-          तुमने अपने बारे में जो बताया, वही सब

-          कमाल है! मैं भी तुम्हारे बारे में ही सोच रहा था। कि तुमने अभी तक अपने बारे में कुछ नहीं बताया।

-          जब मिलेंगे तो बता दूंगी

-          तो अभी क्यों न मिलें?

-          अभी? इस वक्त?

-          हां, मैं कुछ ज़्यादा दूर नहीं हूं।

-          क्यों? कहां हो तुम?

-          तुम्हारे घर के सामने।

-          Really?

-          आज पूरे चांद की रात है। चलो, ड्राइव करके आते हैं।

-          नहीं

-          क्यों? चांदनी अच्छी नहीं लगती?

-          यह बात नहीं है।

-          तो क्या, तुम अपनी मां की इजाज़त के बिना घर से बाहर नहीं निकलतीं?

-          यह बात भी नहीं है।

-          तो क्या बात है?

-          चप्पल पहनना भूल गयी।

 

इजाज़त  -     רשות

ख़ुशनसीब -  בר מזל 

कमाल है! -   איזו הפתעה

 

 

12.

फ़िल्म ‘क्योंकि’

 

दिल के बदले सनम दरद-ए-दिल ले चुके

दे चुके दे चुके तुझे दिल, यह दिल दे चुके

 

अब तुम को ही देख के सांसें चलती हैं, चलती हैं सनम

अब न तन्हा-तन्हा रातें ढलती हैं, ढलती हैं सनम

 

हम तो तेरे ही हो चुके, ख़्वाबों में तेरे खो चुके

दे चुके दे चुके तुझे दिल, यह दिल दे चुके

 

यह ज़िंदगानी तेरे हवाले कर दी है, कर दी है दिलबर

प्रेम कहानी तेरे हवाले कर दी है, कर दी है दिलबर

 

प्यार तो तुम से ही कर चुके हम, हम तो तुम पे मर चुके

दे चुके दे चुके तुझे दिल, यह दिल दे चुके

 

 

 

 

 

13.

 

 

 

कहते हैं, रिश्ते की कोई परिभाषा नहीं होती। यही देखने को मिल रहा है उड़ीसा के नन्दनकानन चिड़ियाघर में। एक नन्हे चिम्पनज़े की माँ उसे छोड़ देती है, लेकिन उसे एक ऐसे इंसान का सहारा मिलता है जो उसे अपने बच्चे से ज़्यादा प्यार कर देता है।

    यह इंसान और जानवर के बीच प्यार की अनोखी कहानी है। इस नन्हे ही चिम्पनज़े का नाम है कार्तिक। और जिसकी गोद में यह खेल रहा है, वह है सिबली। कार्तिक नन्दनकानन चिड़ियाघर में पैदा हुआ। अपनी माँ का यह पहला बच्चा था। लेकिन पता नहीं क्यों, इसकी माँ ने इसे कबूल नहीं किया और यह अकेला पड़ गया।

- तो उसका मिल्क खा नहीं पाया, उसके पास जा नहीं पाया। तो उसके, हम लोगों ने देखा कि ... बीस–बाईस घंटे के बाद हम लोगों ने decide किया कि मां उसको reject कर रही है, क्योंकि उसका first baby है। तो फिर हम लोगों ने उसे अलग किया और hand breeding किया।

    कार्तिक को अपनी मां का दूध भी नसीब नहीं हुआ, लेकिन वह अकेला नहीं पड़ा। उसे सहारा देने के लिये सिबली मौजूद था। वह कार्तिक को अपने बच्चों से ज़्यादा प्यार देने लगा। सिबली ने कार्तिक की छोटी छोटी ज़रूरतों का पूरा ध्यान रखा। चाहे खिलौने की बात हो या फिर खाने पीने की। किसी चीज़ में कोई कोताही नहीं।

- मुझे इससे इतना ज़्यादा लगाव हो गया कि मैं इसे अपने बच्चों से ज़्यादा प्यार करने लगा हूँ। दरअसल यह नन्हा जानवर प्यार पर ही ज़िंदा है।

    आज कार्तिक इस चिड़ियाघर में सब का दुलारा है। हर कोई आते जाते इसके सिर पर हाथ फेर जाता है। भले ही इसे अपनी माँ का प्यार नसीब नहीं हुआ, लेकिन दुनिया के प्यार की बदौलत आज यह ज़िंदा है।   

 

परिभाषा  -   מילה נרדפת

चिड़ियाघर  -   גן חיות 

नन्हा - קטנטן 

सहारा -  תמיכה, עזרה 

अनोखा -  לא רגיל, מפליא 

गोद - חזה 

कबूल करना -  לקבל 

नसीब होना -   ליפול בחלקו

मौजूद -   נמצא

 

कोताही -  מחסור

लगाव -  אהבה 

दरअसल -   למעשה

दुलारा -   חביב, אהוב

हाथ फेरना -  ללטף 

भले ही -   אמנם, בין אם

ज़िंदा -  חי

की बदौलत -   הודות ל-

 

 

14.

 

और चांद पर इंसानी कदम की चालीसवीं आज सालगिरह है। इस मौके पर इसरो (ISRO - Indian Space Research Organization) ने यह कह कर सब की उम्मीद जगा दी कि जल्दी ही हमारे वैज्ञानिकों के कदम भी चांद पर पड़ेंगे। इसरो के मुताबिक छः साल के भीतर दो लोगों को चांद पर भेजने की योजना है। और इस पर काम शुरू भी हो चुका है।

     बीस जुलाई उन्नीस सौ उनहत्तर। चांद पर इंसान का पहला कदम। हम इन तस्वीरों को बड़ी हसरत से देखते रहे और सोचते रहे कि वह दिन कब आएगा जब हमारे वैज्ञानिक चांद पर कदम रखेंगे। लेकिन वह दिन अब दूर नहीं। चंद्रयान की सफ़लता से उतसाहित इसरो ने साफ़ कर दिया है कि अगले Moon mission में दो अंतरिक्ष यात्री भी होंगे।

     एक केप्सूल जाएगा जिस में दो अंतरिक्ष यात्री होंगे। इसपर दो हज़ार करोड़ की लागत आएगी।

     छः साल के इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो चुका है। इस प्रोजेक्ट के लिये space suite का निर्माण थिरुवनंतपुरम में विक्रम सारभाई Space Center में किया जाएगा। दो अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर जानेवाले इस मिशन को मंज़ूरी के लिये सरकार के पास भेजा भी जा चुका है।

     शुरुआती डीज़ाइन बन चुका है। हमें आशा है कि सरकार जल्दी ही उसे अनुमति दे देगी।

     चांद पर भारतीय वैज्ञानिकों को भेजने का यह सपना missile man और देश के पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अबुलकलाम ने देखा था। इसरो उनके सपने को जल्दी ही हकीकत में बदलता देखना चाहता है।

     इसरो अभी इस मिशन के लिये केवल और केवल सरकार की हरी झंडी का इंतिज़ार कर रहा है। और हरी झंडी उसे जल्द ही मिलने की उम्मीद है। और इस मिशन की ख़ास बात यह होगी कि यह मिशन खालिस भारतीय होगा।

 

इंसानी -    אנושי

सालगिरह -   יום השנה  

इस मौके पर -    בהזדמנות זאת, במקרה זה

उम्मीद -   תקווה

जगाना -  לעורר 

वैज्ञानिक -  מדען 

के मुताबिक -  לפי

योजना -  תכנית 

हसरत -   התלהבות

चंद्रयान -  ספינת הירח

सफ़लता -  הצלחה

उतसाहित -  מתלהב, מעודד 

अंतरिक्ष -  חלל

अंतरिक्ष यात्री -   אסטרונאוט

लागत -   עלות

थिरुवनंतपुरम -  שם העיר בדרום הודו 

मंज़ूरी -  אישור, הסכמה

अनुमति -  אישור, רשות

पूर्व -  שעבר

हकीकत -  מציאות 

हरी झंडी -  אור ירוק

खालिस -   גרידא

 

 

14.

 

अब आपको मिलवाते हैं उनहत्तर साल के उस बुज़ुर्ग से जिन्होंने आज तक अन्न नहीं खाया है। सुनने में अजीब ज़रूर लगता है, लेकिन सच यही है कि मुम्बई में पेशे से फ़ोटोग्रफ़र दीपक चोकसे सिर्फ़ दूध के सहारे ज़िंदा है। इतना ही नहीं, इस उम्र में भी वह पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त है। जिसे देखकर डॉक्टर भी काफ़ी हैरान हैं।

     उनहत्तर साल के दीपक चोकसे को जब भी भूख लगती है, तो वह दूध पी लेते हैं। मन करे तो कभी कभी चाय और कॉफ़ी की चुसकी भी लगा लेते हैं। लेकिन इन्होंने अपनी पूरी ज़िंदगी में कभी भी खाना नहीं खाया है। हैरानी की बात तो यह है कि पूरी ज़िंदगी दूध पर गुज़ारनेवाले चोकसे एकदम स्वस्थ है और आम इंसान की ज़िंदगी जी रहे हैं। पेशे से फ़ोटोग्राफ़र दीपक को न खाने की वजह से कभी भी कमज़ोरी महसूस नहीं हुई।

  - मेरा ऐसे ही जन्म से हुआ, तभी मेरे को पता नहीं था कि खाना क्या है। मैं ऐसा ही दूध पीते हुए बराबर जीता रहा। मगर सब लोग मेरे घर में खाना खाते थे, इसमें मुझे खाने में कोई इंटेरेस नहीं था।

  - पहले तो मुझे यकीन ही नहीं होती था, until मैं ख़ुद आके देखने लगी कि डी.एन.नाइडू(?) सिर्फ़ दूध पिये रहते हैं। Then I was surprised.

     दीपक को अन्न खिलाने की कोशिश कई बार की गयी, लेकिन अनाज का दाना मुंह में जाते ही उन्हें उल्टी हो जाती है। डॉक्टरों की मान्यता है दूध एक संपूर्ण आहार है, जिसके ज़रिये इंसान ज़िंदा रह सकता है। लेकिन ऐसे मामले बहुत कम देखने को मिलते हैं।

  - मिस्टर चोकसे मेरे पास अकेले ऐसे पैशंट है। जो सिर्फ़ अब तक दूध पे ज़िंदा रहे हैं। मेरा दस साल का प्रोफ़ेशनल तजरुबा है। इस दौरान मैंने ऐसे कोई पेशंट देखे नहीं हैं। So mister Choksi is a unique patient for me.

     दीपक कुछ लोगों के लिये अजूबा हो सकते हैं। लेकिन वह अपनी ज़िंदगी से पूरी तरह ख़ुश हैं और इस उम्र में भी उनको कोई बड़ी बीमारी नहीं है।

 

बुज़ुर्ग -    מבוגר

अन्न -   לחם

पेशे से -    במקצוע

के सहारे -   על סמך

इतना ही नहीं -   זאת ועוד

चुस्त-दुरुस्त -    בריא ושלם

हैरान -   מופתע

मन करे -   כאשר מתחשק לו

चुसकी लगाना -  ללגום

आम – רגיל, מהשורה 

कमज़ोरी -  חולשה

यकीन -  אמונה

उल्टी होना -  להקיא

संपूर्ण -  מושלם

आहार -   אוכל

तजरुबा -  ניסיון

अजूबा -  נס

 

15

 

 

और आइये, अब आपको दिखाते हैं दिलचस्प fight. यह मुकाबिला इंसानों के बीच का नहीं है और न ही जानवरों के बीच का है। यह fight हुई रोबोट के बीच। टोकियो में हुई इस wrestling को देखने के लिये बच्चे ख़ास तौर पर पहुंचे। रोबोट इस fight को लड़ने के लिये बाक़ायदा पूरी तैयारी के साथ पहुंचे थे। इस wrestling में रोबोट की dress बच्चों के बीच ख़ास आकर्शन का केंद्र बनी हुई थी। इस मुकाबिले में एक सौ बारह रोबोट ने हिस्सा लिया।

मुकाबिला -  תחרות 

ख़ास तौर पर -  במיוחד

बाक़ायदा -  בהתאם לכללים, כהלכה

आकर्शन -  משיכה, אטרקציה

हिस्सा लेना -  להשתתף

 

16

 

 

उम्र के छत्तीसवें पायदान पर कदम रखने जा रही हैं ऐश्वर्या राय बच्चन। बारह साल का फ़िल्मी केरियर हो चुका है उनका, और ऐश्वर्या अड़तीस फ़िल्मों में काम कर चुकी है। लेकिन उनका इस वक्त industry में जो image है, वह इससे पहले किसी दूसरी actress को कभी नहीं मिली। और उसकी वजह है वह तीन कदम जो ऐश ने अपनी शादी के बाद उठाये हैं। ये तीन कदम हैं परंपरा, प्रतिष्ठा और अनुशासन के।

     संस्कार, प्रतिष्ठा, परंपरा और अनुशासन – ये ख़ूबियाँ हैं ऐश्वर्या की। और यही ख़ूबियाँ उन्हें बॉलिवूड के तमाम चमकते चहरों से जुदा और ज़्यादा ख़ूबसूरत बनाती हैं। ऐश्वर्या आदर्श बहू है, जो ज़माने के सामने अपने ससुर जी के पैर छूने से भी नहीं कतराती। ऐश्वर्या आदर्श पत्नी है जो पति अभिषेक के साथ हर जगह नज़र आती है। फिर एक अच्छी बेटी की तरह ऐश जया की दुलारी भी है।

     दुनिया की सब से ख़ूबसूरत औरत का ख़िताब पा चुकी ऐश के ये वह तमाम रंग हैं जो बोलिवूड में तो कम से कम देखने को नहीं मिलते। और ऐश की ये ख़ूबियाँ ही बॉलिवूड की स्थिरता बना देती हैं। मनी रतनम भी इसी बात को जानते हैं और मानते हैं। तभी उन्होंने अपनी फ़िल्म ‘रावण’ में ऐश्वर्या को सीता बना दिया। सीता ऐसी, जो कलियुग में भी त्रेतायुग के संस्कारों को निभा सके, एक परिवार का हिस्सा बन सके और अपने परिवार की हर ख़ुशी और हर ग़म में साथ निभा सके। ऐश्वर्या ऐसी बहू बनेंगी – किसने सोचा था? ऐश करवाचौथ का व्रत रखेंगी, अपने पति की पूजा करेंगी – यह भी किसने सोचा था? छलनी से चांद देखकर उससे अपने पति की लंबी उम्र की दुआ करेंगी – यह बात भी पहले किसी से कही जाती तो यकीन न होता। मगर आज ऐश हर रिश्ते को निभा रही है, पूरी मर्यादा के साथ। रात के पहर ऐश अभिषेक और अमितभ के संग सिद्धि विनायक के दरबार पहुंच जाती है। परिवार के संग और कभी घरवालों के संग वह केदारनाथ के दर्शन को निकल पड़ती है।

     शादी के बाद ऐश ने फ़िल्मों में अपने रोल भी कुछ ऐसे चुनने शुरू कर दिये हैं जिनसे उनके परिवार की प्रतिष्ठा पर कोई आँच न आए, और उनके किरदार लोगों के लिये यादगार भी बन जाएँ। ऐश की यही अदा उन्हें सब से अलग बना देती है। शादी से पहले परंपरा के लिये ही काशी से लेकर विंध्याचल तक के मंदिरों में हाज़िरी, और शादी के बाद भी इस परंपरा को दिल से लगाकर निभाने का अंदाज़ ही ऐश के चहरे के नूर को और उनकी शख़्सीयत की चमक को लगातार बढ़ा रहा है। तो मिल लीजिये बॉलिवूड की सीता से।  

 

पायदान - מדרגה 

कदम रखना – לעמוד (לשים רגל) 

कदम उठाना – לעשות צעד  

परंपरा - מסורת 

प्रतिष्ठा -  כבוד

अनुशासन - משמעת 

संस्कार -  ערך, חינוך

ख़ूबी -  תכונה יפה, סגולה

तमाम -   כל ה-

जुदा -   אחר, שונה

आदर्श -  אידיאלי

ज़माने के सामने -  בעיניי כל, ברבים

ससुर -  חם (אביו של בעל)

छूना -  לגעת

कतराना -  לחשוש

जया -   שם אשתו של אמיתב בצ'ן

दुलारी -  אהובה, חביבה

ख़िताब -  כינוי

स्थिरता -  יציבות

मनी रतनम – השם של במאי מפורסם

कलियुग – עידן הרוע (בו אנו נמצאים) 

त्रेतायुग – עידן שקדם לקליוג

निभाना -  לקיים, לבצע

ग़म - אבל, צער

साथ निभाना – להשתתף (בצער) 

करवाचौथ – שם החג

व्रत -   צום 

व्रत रखना -   לצום

छलनी -  מסננת

मर्यादा -  כבוד

के संग = के साथ

सिद्धि विनायक - כינוי של האל גַנֶשָׁה   

दरबार - חצר של מלך

आँच – כתם, פגיעה

किरदार - תפקיד 

यादगार -  זיכרון

अदा - התנהגות 

हाज़िरी - נוכחות

नूर -  אור

शख़्सीयत -  אישיות

चमक -  זוהר

लगातार -  ללא הפסקה

 

17

 

- साक्षी का boyfriend मिल गया?
- मिल जाएगा।
- मिल जाएगा। मिल जाएगा। ... ओ, तो आप देख रहे हैं। क्यों झांक रहे हैं आप? शर्म नहीं आती?
- नेहा...
- ...?
- आज मैं तुम्हें एक कहानी सुनाना चाहता हूँ। 
- नहीं, नहीं, नहीं, कहानी नहीं, please. आज मैं तुम्हें जी भरके प्यार करना चाहती हूँ। 
- यह कहानी भी प्यार की कहानी है। सुन तो लो।
- अच्छा, बाबा, सुनती हूँ। मगर तुम्हारे कंधे पर सर रखकर। 
- एक चोर था। वीकी उसका नाम था। 
- चोर? यह प्यार की कहानी में चोर कहाँ से आ गया?
- सुन तो लो। उसकी एक प्रेमिका थी, जिसे वह बहुत प्यार करता था। 
- अरे वाह! चोर प्यार भी करता है! 
- चोर भी प्यार करते हैं। उनके सीने में भी दिल होता है। उन दोनों का एक ही सपना था -- अपना घर-संसार बसाने का। जानती हो, नेहा? एक दिन उनका यह सपना हक़ीक़त में बदल गया। और वह हक़ीक़त उनकी दुश्मन बन गयी। दुश्मनों से जान बचाते हुए दोनों भागते चले जा रहे थे। दोनों एक दूसरे से बिछड़ गये। मौत वीकी के बहुत करीब आ गयी थी और अचानक ... अचानक मेरी जगह अनजाने में एक बेगुनाह मारा गया। वह बेगुनाह कौन था, जानती हो, नेहा? वह ...
- Sorry, वह... एक मिनट के लिये मेरी आँख लग गयी थी। पर तुमने मुझे उठाया क्यों नहीं? अच्छा, तुम कहानी सुना रहे थे न? वह दुबारा सुनाओ न, please.
- तुम सच-मुच सुनना चाहती हो? तो सुनो। यह कहानी नहीं, सच्चाई है, हक़ीक़त है। वह चोर कोई और नहीं, मैं हूँ। मेरा नाम रोहित नहीं, वीकी है। रोहित का हमशक्ल।... रोहित मर चुका है। नेहा, तुम्हारा पति मर चुका है। तुम विधवा हो चुकी हो। नेहा! 

साक्षी - שם פרטי 
झांकना - להציץ
शर्म नहीं आती - אתה לא מתבייש?
जी भरके - כאות נפשי
बाबा - "אבלה" - פניה לילד או למבוגר בצחוק 
कंधा - כתף
प्रेमिका - אהובה
हक़ीक़त - מציאות
जान बचाना - להציל חיים 
बिछड़ना - להיפרד
अनजाने में - בטעות
बेगुनाह - חף מפשע 
आँख लग जाना - להירדם
हमशक्ल - כפיל
विधवा - אלמנה

 

18

 

-         कहाँ गयी थीं? ... यह सब खुला छोड़कर?

-         कुछ चाहिये आपको?

-         कितने की है?

-         ढाई सौ रुपये।

-         पुलिसवाले को लूट रही है।

-         छुट्टे नहीं हैं वापस देने के लिये।

-         कोई बात नहीं। फिर कभी ले लेंगे।

-         Single piece चाहिये था, दो क्यों चिपका रही हो?

-         उधार नहीं रखते हम। अगली बार वापस करके पैसे ले लीजियेगा।

-         दो। ... चलें? ... चलते हैं। ... एक मिनट बात करने का 500 रुपैया। ... 500 और गये ... गिर गये। ... इन दो मटकियों के लिये।

-         गलती हुई आपसे। गलती का दाम नहीं लेती मैं।

-         दाम दे रहे हैं, दान नहीं। प्यार से दें, इन्हें रख लो, वरना थप्पड़ मारके भी दे सकते हैं।

-         थप्पड़ से डर नहीं लगता साहिब, प्यार से लगता है। 

 

लूटना -   לשדוד

छुट्टे -    עודף

चिपकाना -  לכפות

उधार -   הלוואה

मटकी -   כד

दाम -   מחיר

दान -   נדבה

वरना -  אחרת, או ש-   

थप्पड़ -  סטירת לחי 

थप्पड़ मारना -  לתת סטירה  

डर लगता है -  ... מפחד/ת 

 

19

 

घर लेने जा रहे हैं? तो जल्दी फ़ैसला कर लें। अगले कुछ महीनों में फ़्लेट्स की क़ीमतें फिर से बढ़ सकती हैं। पहले ही साल भर में property कीमतों में 15 से 20 पर्सेंट का उच्छाल आ चुका है। JLLM (Jones Lang LaSalle Meghraj) की एक रीपोर्ट के मुताबिक पिछले एक साल में फ़्लेट्स की कीमतों में सब से ज़्यादा बढ़ोतरी साऊथ मुंबई में हुई है। यहां पिछले साल बीस हज़ार पांच सौ प्रति वर्ग फ़ुट के हिसाब से फ़्लेट मिल रहे थे। अभी यहाँ कीमतें सताईस हज़ार रुपया प्रति वर्ग फ़ुट तक चली गयी है, जब्कि मुंबई के बाकी इलाकों में कीमतें 20 पर्सेंट तक ही बढ़ी हैं। दिल्ली NCR (National Capital Region) में सिर्फ़ गुड़गांव में कीमतें 21 पर्सेंट बढ़ी हैं। पिछले साल यहां करीब सैंतीस सौ रुपये प्रति वर्ग फ़ुट का भाव था, जो अब पैंतालीस सौ पचास रुपया प्रति वर्ग फ़ुट पर आ गया है। जब्कि नोइडा में फ़्लेट्स की कीमतों में सिर्फ़ छह पर्सेंट की बढ़ोतरी हुई है। यहां property की supply अच्छी होने से कीमतें ज़्यादा नहीं बढ़ी हैं। 

उच्छाल -    זינוק

के मुताबिक -   לפי

बढ़ोतरी -   גידול

वर्ग -   רבוע

प्रति -  per

के हिसाब से -  מחישוב של-

बाकी -   שאר

भाव -  מחיר

 

20

 

 इस चुनाव ने एक नयी कहानी लिख दी है। और बिहार में पूरे देश के लिये एक प्रयोग भी हो रहा था। सच-मुच काम पर वोट मिलता है या नहीं मिलता है। तो बिहार के लोगों ने साबित कर दिया है कि काम पर ही वोट मिलता है। और मैं समझता हूं कि यह नयी कहानी है, बिहार के लिये तो नई कहानी है। लेकिन इसका प्रभाव, मैं समझता हूं, बिहार के बाहर भी अवश्य पड़ेगा। और अब अगर राजनीति में प्रतिस्पर्धा हो, तो प्रतिस्पर्धा इस बात की होनी चाहिये कि कौन ज़्यादा काम करेगा। ...से अभिभूत हूं, लेकिन साथ साथ मुझको यह लग रहा है कि मेरे ऊपर और बड़ी ज़िम्मेवारी आ गई है। मैं तो, अगर आज के दिन कोई प्रार्थना करने को कहे, तो मैं तो यही प्रार्थना करूंगा - मुझमें इतनी क्षमता हो कि हम लोगों की इच्छाओं के अनुरूप काम कर सकें। मैं अपनी तरफ़ से मेहनत करने से बाज़ नहीं आऊंगा। और दरअसल किसी के पास जादू की छड़ी नहीं होती है। हमारे पास भी कोई जादू की छड़ी नहीं है। लेकिन हमारे पास लोगों का विश्वास है और ख़ुद काम करने की इच्छा-शक्ति।

 

प्रयोग -  ניסוי 

वोट - vote  

साबित करना - להוכיח 

प्रभाव -  השפעה

राजनीति -  מדיניות

प्रतिस्पर्धा -  תחרות

अभिभूत -  נרגש 

ज़िम्मेवारी -  ज़िम्मेदारी -  אחראיות

प्रार्थना -  משאלה 

क्षमता -  יכולת 

के अनुरूप -  בהתאם ל- 

मेहनत - עמל 

बाज़ आना – לעזוב, לוותר, להימנע 

जादू की छड़ी -  מקל קסם

विश्वास -  אמונה

इच्छा-शक्ति -  כוח רצון

 

21

 

 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत के permanent membership की बात हो, पर पाकिस्तान को यह हजम हो जाए – ऐसा मुमकिन नहीं। पाकिस्तान ने अमेरिका के उस बयान का विरोध किया है जिसमें बाराक ओबामा ने स्थाई सदस्यता के लिये भारत का समर्थन किया था।

- अमेरिका का यह समर्थन संयुक्त राष्ट्र के सुधार प्रक्रिया को और जटिल बनाएगा। इससे संयुक्त राष्ट्र charter के मूल्य सिद्धांतों का उल्लंघन होता है, जिसका असर अंतर्राष्ट्रीय संबंधों पर पड़ेगा।

    अमेरिकी राष्ट्रपति बाराक ओबामा ने सोमवार को संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा था कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का जब भी विस्तार हो, वह भारत को उसके स्थाई सदस्य के तौर पर देखना चाहेंगे। अमेरिका ने भारत का पहली बार इतना खुलकर समर्थन किया है। 

 

 

संयुक्त राष्ट्र -  האו"ם  

सुरक्षा परिषद -   מועצת הביטחון

हजम होना -  לעכל (להסכים)

बयान -  הצהרה

विरोध करना -  להתנגד

स्थाई -  קבוע 

सदस्यता -  חברות (בארגון)

(का) समर्थन करना -  לתמוך (ב-)

समर्थन -  תמיכה

सुधार प्रक्रिया -  תהליך השיפור

जटिल -  מסובך

मूल्य -  בסיסי

सिद्धांत -  עיקרון

उल्लंघन -  הפרה

असर -  השפעה

अंतर्राष्ट्रीय -  בינלאומי

संबंध -   יחסים

संसद -    הפרלמנט ההודי

संयुक्त -   מאוחד

सत्र -  ישיבה 

संयुक्त सत्र -  מליאה (של פרלמנט)

संबोधित करना -  לפנות אל- 

विस्तार -  הרחבה

सदस्य -  חבר (בארגון)

के तौर पर -  בתור

खुलकर -  בפומבי 

 

 

22.

जल्दी ही छात्रों के लिये विदेशी विश्वविद्यालय में पढ़ाई आसान होनेवाली है। इन विश्वविद्यालयों में पढ़ाई न केवल सस्ती होगी बल्कि ये भारत में स्थापित किये जा सकेंगे। सरकार जल्दी ही विदेशी विश्वविद्यालयों को भारत में केम्पस खोलने की मंजूरी देने की योजना बना रही है। यह प्रस्ताव जल्दी ही केबिनेट में लाया जाएगा।

   फ़िलहाल भारत के शिक्षा संस्थान विदेश में केम्पस खोलने के लिये आज़ाद हैं। लेकिन किसी विदेशी संस्थान को भारत में केम्पस खोलने की इजाज़त नहीं है। लेकिन ऐसा होने पर यह छात्रों के लिये बेहतर होगा। वे यहीं रहकर विश्व स्तर की फ़ेकलटीज़ से शिक्षा हासिल कर सकेंगे।

   जिन युनिवरसिटीज़ ने पहले ही केम्पस खोलने में दिलचस्पी दिखाई है, उनमें कैंब्रिज, यू.एस. की येल और ब्राऊन युनिवर्सिटी, सिंगपुर की एनटीयु, फ़्रांस की इनसीड और ऑस्ट्रेलियाई युनिवर्सिटी भी शामिल है।

   विदेशी संस्थानों के केम्पस खुलने पर भारतीय छात्र सस्ती शिक्षा भी हासिल कर सकेंगे। फ़िलहाल अमेरिका में पोस्ट ग्रेजुएशन का ख़र्च बीस से चालीस लाख रुपया आता है। इंग्लेंड में पंद्रह से तीस लाख, सिंगपुर में दस से चालीस लाख, फ़्रांस में बीस से तीस लाख और ऑस्ट्रेलिया में बारह से तीस लाख रुपये का ख़र्च आता है। विदेशी संस्थान भारत में खुल जाएंगे तो पांच से दस लाख रुपये की रक्म पर ही पोस्ट ग्रेजुएशन के ख़र्च पूरे किये जा सकते हैं। कुल मिलाकर यह तय है कि घर बैठे दुनिया की बेहतरीन युनिवर्सिटीज़ में पढाई और exposer का मौका मिलेगा।

   विदेशी शिक्षन संस्थानों के लिये भारत में बेहतर वातावरण बनाना सरकार और उन शिक्षन संस्थानों, दोनों के लेये फ़ायदे का सौदा है। जहां सरकार को शिक्षा की स्थिति में उन संस्थानों के आने से कम निवेश करना पड़ेगा, वहीं वे संस्थान भारत में बड़ा बाज़ार देख रहे हैं।

 

आसान - קל 

स्थापित करना -  להקים

मंजूरी -  אישור

योजना -  תכנית 

योजना बनाना -  לתכנן

प्रस्ताव - הצעה 

फ़िलहाल -  בינתיים

संस्थान -  מוסד 

शिक्षा संस्थान – מוסד לימודי (חינוכי) 

आज़ाद -  חופשי

इजाज़त -  רשות, התר

स्तर - רמה 

विश्व स्तर -  רמה בינלאומית

हासिल करना -  להשיג

दिलचस्पी -  התעניינות

शामिल -  כלול

ख़र्च -  הוצאה

रक्म -  סכום

तय - הוחלט 

घर बैठे -  בלי לצאת מהבית

बेहतरीन -  הטוב ביותר 

मौका -  הזדמנות 

वातावरण -   אווירה

फ़ायदा -  תועלת

सौदा -   עסקה

स्थिति -  מצב

निवेश - השקעה      

23.

प्रिया, तुम्हारा जन्म कोई ऐसी जगह हुआ है जिसके आस पास पानी है। maybe, maybe Mumbai? Are you born in Mumbai?

–        Yes, aunty.

–        बचपन में, जब तुम बहुत छोटी सी थीं, शायद छह या सात साल की, I see tragedy, कोई हादसा। इसमें तुमहारे मम्मी और डेड... I am sorry

–        It’s O.K.

–        यह बात तुम ज़ाहिर नहीं करतीं कि तुम्हें अपने केरियर में इतना interest नहीं जितना कि अपना घर बसाने में। You are actually waiting for mister Right? Am I right? क्या सोच रही हो?

–        You are awesome aunty. आंटी, मेरी तो बस एक ही ख़्वाहिश है कि मेरी शादी हो जाए, एक अच्छा सा husband हो, छोटा सा घर हो, दो cute से बच्चे हों, मेरे husband रोज़ सुबह ऑफ़िस जाएं और मैं अपने घर और बच्चों का ख़याल रखूं। So, aunty, tell me now, tell me more. मुझे मेरा life-partner कब मिलेगा?

–        बस, इतना ही जानना चाहती हो? तो चलो, shuffle the cards.  इसी के बारे में सोचो और shuffle them... प्रिया, तुम्हें तुम्हारा life-partner इस महीने की सात तारीख़ को मिलेगा।

–        आज पहली तारीख़ है। यानी आज से सात दिन बाद?

–        हां, वह तुम्हें सुबह सात बजे किसी foreign country में पानी के पास, शायद किसी बीच पर मिलेगा।

–        foreign country? लेकिन ऑटी, foreign country जाने का तो दूर दूर तक कोई प्रोग्राम ही नहीं है।

–        तुम नहीं जाओगी, प्रिया, तक़दीर तुम्हें ले जाएगी।

–        पर मैं उसे पहचानूंगी कैसे?

–        जब वह तुम्हें मिलेगा, उसने सातरंगे कपड़े पहने होंगे।

–        ओहो-हो प्रिया, चलो न, come off it, यार, इतनी देर कर दी तुमने! कॉलिज में तो कहती थी destiny में believe नहीं करती, और यहां आके आंटी से चिपक गयी!

–        Honey, aunty is awesome. जानती हो इन्होंने क्या कहा?

–        क्या?

–        कि सात दिन के अंदर मेरा life-partner मिल जाएगा।

–        I am sorry, aunty, लगता है आपका यह prediction गलत होनेवाला है। क्योंकि प्रिया को एक लड़का नहीं, तीन लड़के चाहिये। इसको ऐसा लड़का चाहिये, जो सिग्रेट न पीता हो, शराब न पीता हो और झूठ न बोलता हो। अब आप ही बताइये, आज के ज़माने में इतनी सारी qualities एक लड़के में हो सकती हैं?

–        क्योंकि मैं उस लड़के से कभी मिली नहीं, इस लिये मैं यह तो नहीं कह सकती, कि वह लड़का सिग्रेट नहीं पीता, और मैं यह भी नहीं कह सकती, कि वह लड़का शराब नहीं पीता, और मैं यह भी नहीं कह सकती कि वह लड़का झूठ नहीं बोलता। पर हां, एक बात तय है – कि वह लड़का आज से सात दिन बाद सुबह सात बजे किसी foreign बीच पर प्रिया को यक़ीनन मिलेगा।

 

आज दिव्या की आंटी ने मुझे हैरत में डाल दिया। उन्होंने कहा कि इस महीने की सात तारीख़ को मुझे मेरा जीवन-साथी foreign country की एक बीच पर सुबह सात बजे मिलेगा। उसने सातरंगे कपड़े पहने होंगे। मेरा दिल मुझसे कहता है कि आंटी की यह prediction सच साबित होगी। कैसे? यह मैं नहीं जानती हूं। दिल बस बार बार एक ही  सवाल पूछता है कि वह लड़का, जो सात दिन बाद मेरा जीवन-साथी बननेवाला है, कैसा होगा? और अगर वह दिल्ली मैं है, तो कहां होगा? 

 

के आस पास  -  בקרבת מקום 

बचपन -  ילדות

हादसा -  תאונה 

ज़ाहिर करना - לגלות  

घर बसाना -  להקים משפחה 

ख़्वाहिश -  רצון 

ख़याल रखना -   לטפל ב-, לדאוג ל-

बस, इतना ही -  זה הכל / רק זה  

तक़दीर -  גורל 

पहचानना -  לזהות, להכיר 

सातरंगा -  צבעוני, בעל שבעה צבעים 

देर करना -   להתעכב

चिपकना -  להידבק

ज़माना -  זמן 

यक़ीनन -   בוודאות

हैरत में डालना -  להפתיע 

जीवन-साथी -  בן זוג 

साबित होना -  להתגלות, להתברר 

 

 

24.

पूरे संसार में हज़ारों नदियां हैं और उनका पानी भी अलग अलग हो सकता है। लेकिन भारत की पवित्तर नदी गंगा में ऐसा क्या है कि इसका जल अमृत के समान है। साइंटिस्ट्स ने जब इसकी research की तो पाया कि गंगा जल से स्नान और इसका जल पीने से शरीर की कई बीमारियां भी दूर हो सकती हैं।

     गंगा नदी निकलती है गोमुख से जोकि समुद्र से चार हज़ार मीटर से भा ज़्यादा ऊंचाई पर है। इतनी ऊंचाई जहां हवा, पानी और धान्य में किसी भी तरह का प्रदूषण नाम मात्र को भी नहीं होता हड्डियां जमा देनेवाली ठंड में कीटाणू ज़िंदा नहीं रह पाते। भागीरथी और इसकी सहायक नदियां आगे चलकर गंगा कहलाती हैं। ये नदियां जिन पहाड़ों से निकलती हैं, उनकी चट्टानों में ऐसे खनिज पदार्थ हैं जो कीटनाशक हैं जैसे गंधक और चूना। इन चट्टानों से पानी रगड़ खाकर नीचे आता है। इस तरह गंगा और इसकी सहायक नदियों को लगातार कीटनाशक खनिज पदार्थ मिलते रहते हैं, जो गंगा जल को साफ़ बनाए रखते हैं। इसके अलावा गंगा और उसकी सहायक नदियां जिन पहाड़ों से निकलती हैं, उनपर घने जंगल भी हैं। इन जंगलों के कुछ पेड़-पौधे औषधि गुणवाले हैं, जिनका असर भी गंगा जल पर भी रहता है। पानी में virus और bacteria की कोशिकाएं होती हैं। virus कोशिकाओं में ख़ुद बढ़ने के गुण नहीं होतो। जबकि bacteria कोशिकाएं बढ़ती रहती हैं। गंगा नदी के पानी की virus कोशिकाओं में bacteria को ख़त्म करने की ताक़त और नदियों से कई गुणा ज़्यादा है। गंगा जल में हैजा, typhoid, plague, ज़ख़्म, जलने से हुए घाव, hemorrhagic सपटोसीमिया (?) जैसी कई बीमारियों को दूर करने के गुण भी हैं। सूरज भी साफ़ करता है गंगा को। जी हां, गंगा नदी के बहते पानी पर जब सूरज की सतरंगी किरणें काफ़ी समय तक पड़ती हैं तब सूरज की गरमी और उसकी सतरंगी किरणों से गंगा जल के कीटाणू मर जाते हैं। पानी साफ़ और निर्मल हो जाता है। साथ ही साथ इसमें औषधीय गुण भी आ जाते हैं। विज्ञान बताता है कि सूरज की सतरंगी किरणों में अलग अलग गुण होते हैं। उदाहरण के तौर पर लाल रंग की किरणों में बहुत गरमी होती है, जो गंगा जल को गरमी देती है। गर्मी कीटानुओं को मारती है। इसी तरह पीले रंग की किरणें पानी को पारदर्शी बनाती हैं। आजकल तो सूरज के सात रंगों से दवाइयां भी बनाई जाने लगी हैं। बहते पानी के दौरान सुक्ष्म कीटाणू और जीवानू खुली ऑक्सीजन की वजह से गंगा जल में पड़ी गंदगी का ख़ात्मा करते रहते हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि गंगा जल में गंदगी को ख़त्म कर फिर से पवित्तर बनने की ताक़त दूसरी नदियों के मुकाबिले पंद्रह से पच्चीस फ़ीसदी ज़्यादा है। सन उन्नीस सौ साठ में थियोडोर शेवेंट, जॉर्ज एडम्स और जॉन विल्किस ने यह पता लगाया कि पानी की जीवन शक्ति का रहस्य उसकी लय अयुक्त रफ़्तार में है। गंगा जिस धरातल पर बहती है, वहां गुरुत्वाकर्षण शक्ति का खिंचाव रहता है, जिसकी वजह से गंगा का बहाव कई दिशाओं में एकसाथ होता है। पानी कभी नीचे जाता है, कभी ऊपर होता है, कभी चक्कर लगाता है, कभी गंगा में भंवर पड़ने लग जाते हैं। पानी के इस तरह से बहने की वजह से उसमें ऑक्सिजेन की मात्रा बढ़ जाती है। पानी में चक्कर, भंवर और कंपन पानी के लिये फेफड़ों जैसा काम करते हैं। नदी में रहनेवाली मछलियां, कछुए, ऊद-बीलाव पानी के ऑक्सिजेन को कम करते हैं, लेकिन इन कीड़ों-मकोड़ों को ख़त्म भी करते हैं। क्योंकि गंगा में यह गुण है कि वह वायु-मंडल से ऑक्सिजेन ले लेती है, तो वह कमी पूरी हो जाती है। एक जापानी विद्वान मसाए यामोतो ने अपनी research से यह साबित किया है कि तरह तरह की तरंगें, जो प्रार्थना, शब्दों, विचारों, संगीत, घंटों वगैरह की ध्वनि से पैदा होती है, गंगा जल के molecular structure को बदल कर पानी को शुद्ध करती हैं। जूलियन प्रेडो होलिक ने अपनी किताब ‘गंगा’ में वैज्ञानिक साहित्य के आधार पर गंगा की पवित्तरता की विस्तार से व्यख्या की है। इस तरह गंगा जल की स्वच्छता और पवित्तरता केवल एक धार्मिक यकीन ही नहीं है, बल्कि यह एक वैज्ञानिक सच्चाई भी है।  

 

के समान -  שווה ל- 

शरीर -    גוף

गोमुख -    שם המקום ממנו יוצא הגנגס

प्रदूषण -      זיהום

नाम मात्र को भी -     באופן נומינלי

हड्डी -   עצם

जमाना -   להקפיא

हड्डियां जमा देनेवाली ठंड -  קור מקפיא 

कीटाणू -  מיקרוב 

भागीरथी -   שם הנהר  

चट्टान -   צוק

खनिज -    מינראלי

पदार्थ -    חומר

कीटनाशक -   מחטא

गंधक -  גפרית 

चूना -  סיד  

रगड़ खाना -   להתחכך

बनाए रखना -    לשמר

औषधि -    תרופה

गुण -    תכונה

असर -   השפעה

कोशिका -    תא

ताक़त -    כוח

कई गुणा -   פי כמה

हैजा -    כולרה

ज़ख़्म -  פצע 

जलने से हुए घाव -  כוויה  

औषधीय -    מרפא

पारदर्शी -    שקוף

सुक्ष्म -     פעיל

जीवानू -    בקטריה

ख़ात्मा करना -   להשמיד

के मुकाबिले -    בהשוואה ל-

फ़ीसदी -   אחוז

रहस्य -   סוד

लय अयुक्त रफ़्तार -   קצב לא סדיר

धरातल -    שטח

गुरुत्वाकर्षण शक्ति -    כוח המשיכה

खिंचाव -  משיכה

बहाव -   זרם, זרימה

दिशा -  כיוון 

चक्कर लगाना -   לעשות סיבוב

भंवर -   מערבולת

कंपन -   נענוע

कछुआ -  צו

ऊद-बीलाव -    בונה (חית נהר)

कीड़े-मकोड़े -   חרקים 

वायु-मंडल -    אטמוספרה

साबित करना -    להוכיח

तरंग -   גל

ध्वनि -  צליל 

आधार -   יסוד

व्यख्या करना -   להביע

स्वच्छता -    טוהר

यकीन -    אמונה

25.

 

-                      मैं चाहता हूं जितने भी प्रस्तावित नाम हैं, सबों पर खुलकर विचार किया जाए।

-                      लिस्ट बना चुके हैं हम। आप लोग इसको ओ.के कीजिये।

-                      वीरेंद्र, पार्टी की एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया है। सभी प्रस्तावित नामों पर विचार होगा।

-                      कृपया बताने का कष्ट करेंगे कि आपका कार्यकारी अध्यक्ष पद पर चुनाव किस लोकतांत्रिक प्रक्रिया से हुआ? ... आ-आ, चाचा जी। जिस अध्यक्ष महोदय की कृपा से आप उस कुर्सी पर विराजमान हैं, उनको दिखा चुके हैं हम यह लिस्ट।

-                      तो उनका आदेश-पत्र भी होगा आपके पास?

-                      लिस्ट तो यही रहेगा। जितना विचार करना है, कर लीजिये। टोप में माधवपूर सीट पर आपने अपना नाम कैसे लिख दिया? माधवपूर के सीट से तो हमेशा बड़े साहिब ही लड़ते रहे हैं।

-                      और पिता जी की अनुपस्थिति में उसपर पहला हक हम...

-          माधवपूर सीट पर किसी दावे की ज़रूरत नहीं है। वह सीट पार्टी अध्यक्ष के लिये सुरक्षित है।

-                      और वर्तमान में वह चंद्र प्रताप जी हैं।

-                      माधवपूर से तो अध्यक्ष को ही लड़ना चाहिये।

-                      नगरपालिका का इलेक्शन तो लड़े नहीं आप आज तक, अब अचानक माधवपूर? हम आपका यह सपना कभी पूरा नहीं होने देंगे, कार्यकारी अध्यक्ष महोदय।

 

प्रस्तावित -    מוצע, מומלץ

खुलकर -    בגלוי

लोकतांत्रिक -     דמוקראטי

प्रक्रिया -    תהליך

कृपया बताने का कष्ट करेंगे -      הואיל נא להגיד

कार्यकारी -   ממלא מקום

कार्यकारी अध्यक्ष -    ממלא מקום ראש מפלגה

पद -    תפקיד

अध्यक्ष -    מנהל, ראש מוסד

महोदय -    אדון מכובד

विराजमान -   יושב

आदेश-पत्र -   הוראה כתובה

दावा -  דרישה, טענה

सुरक्षित -   שמור

वर्तमान में -  עתה, כרגע 

26.

 

 

बाबू लाल जी की हत्या महंगी पड़ेगी उनको, बहुत महंगी। बौखला गये हैं वह। खलबली मच गयी। बदहवासी छाई है। Single point agenda है कि कैसे हमारी एकता तोड़ें। अरे भाइयो, राष्ट्रवादी की जड़ें इतनी कमज़ोर नहीं हैं कि इन हादसों से हिल जाएं। बेबुनियाद आरोप, मनगढ़ंत scandals, और खोद खोद के कीचड़ उछाल रहे हैं हम पर। मगर आसमान में थूकनेवाले को शायद यह पता नहीं है कि पलटके थूक उन्हीं के चेहरे पर गिरेगा। करारा जवाब मिलेगा, करारा जवाब मिलेगा।   

 हत्या -   רצח

महंगा पड़ना -   לעלות ביוקר

बौखलाना -  לאבד עשתונות

खलबली -   פאניקה, מהומה

खलबली मचना -  להיכנס לפאניקה 

बदहवासी – מבוכה, בלבול 

एकता -  אחדות

जड़ -  שורש

हादसा -  תעונה

हिलना -   להתרופף

बेबुनियाद -  חסר שחר 

मनगढ़ंत -  בדוי, מפוברק

खोदना -   לחפור

कीचड़ -   בוץ

उछालना -   להשליך

थूकना -   לירוק

पलटके -   בחזרה

थूक -   יריקה

करारा -   מוחץ

 

27.

 

 

-          Good night… Abhay!

-          Yeah…

-          Coffee? मैं बना रही हूं, so you know it will be special.

-          Oh… I mean…

-          I’d love to, Alisha. Yes, Alisha… कुछ भी बोल सकते हो – anything.

-          I’d love to.

-          If you don’t mind, मैं तुमसे एक बात पूछूं? It’s a little personal

-          Yeah

-          Not so worried!

-          No, no, no, please ask.

-          O.K. तो कल रात तुमने मुझे अपने second love के बारे में बताया था।  so I am presuming  कि कोई  first love  भी होगी? मैं जानती हूं कि तुम्हारी कोई girl friend कभी नहीं रही.

-          Yes, I …

-          What is the deal?

-          तुम really जानना चाहती हो?

-          Yeah

-          तो हां, एक लड़की थी। सच बात तो यह कि मैं अभी भी उससे प्यार करता हूं।

-          Oh, that is really sweet. Wow, कौन है वह?

-          है लड़की। अभी तो सात साल हो गये हैं। उसको यह भी नहीं पता। उसको तो यह भी नहीं पता कि मैं कौन हूं।

-          Wait a minute. सात साल हो गये हैं? Oh my God, you are such a looser! That is ridiculous! तुम्हारे कहने का मतलब है कि सात साल से तुम किसी लड़की को प्यार करते हो और उसे इस बात का पता भी नहीं?

-          ...

-          You know that is stupid, right?  क्योंकि कोई भी लड़की चाहेगी कि एक लड़का उसे पागलों की तरह प्यार करे। In fact, वह तो वहीं तुमसे प्यार करने लगेगी।

-          Oh, really?

-          Yeah!

-          अगर वह करेगी, तो गलती करेगी। प्यार करे तो मुझसे करे, इस लिये नहीं कि मैं इससे प्यार करता हूं।

-          Anyway, है कौन (…?)

-          Coffee पी रही होगी कहीं, दुनिया के किसी कोने में किसी looser के साथ। You now, like this… अलीशा मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूं।

-          कहो।

-          मुझे पता नहीं तुम यह सुनकर क्या सोचोगी या ... (…?)

-          Try me

 

28.

क्रांतियां हमेशा ख़ून-ख़राबे और धूम-धड़क्के से ही नहीं होतीं। कभी-कभी चुप-चाप, बिना शोर-शाराबे के, ऐसे फ़ैसले हो जाते हैं जिनका शुक्रगुज़ार आनेवाली नसलें होती हैं। ऐसा ही एक क्रांतिकारी फ़ैसला रविवार को दिल्ली में मुस्लिम विद्वानों की बैठक में हुआ। सैंकड़ों इस्लामी विद्वानों और मौलवियों की बैठक में यह तय किया गया कि किसी भी मुसलमान लड़की की शादी बगैर उसकी मरज़ी के नहीं की जा सकती। और अगर शादी के लिये किसी तरह का दबाव बनाया भी जाता है तो उस शादी को ख़ारिज किया जा सकता है। मौलानाओं का मानना था कि हर मुस्लिम लड़की को अपना शौहर चुनने का अधिकार है। इस मामले में उसपर किसी तरह का दबाव नहीं डाला जाना चाहिये। यह फ़ैसला इस्लामी फ़िक़ा अकेदमी banner तले दिल्ली में हुई एक बैठक में लिया गया। बैठक में all india personal law board दार-उल-उलूम देवबंद के अलावा अहम मुस्लिम संगठनों के विद्वान और मौलाना शामिल हुए।

क्रांति

מהפכה - נ

क्रांतिकारी

מהפכני

ख़ारिज करना

לפסול, לשלול – פ"י

ख़ून-ख़राबा

שפיחות דמים - ז

दबाव

לחץ - ז

दबाव डालना

להפעיל לחץ, ללחוץ – פ"י

दार-उल-उलूम

אוניברסיטה - ז

धूम-धड़क्का

רעש, זעקה - ז

नसल

דור - נ

फ़िक़ा

אוסף חוקי האסלאם

मानना

הסכמה - ז

मामला

עניין - ז

मौलवी

כהן-דת מוסלמי

मौलाना

כהן-דת מוסלמי

विद्वान

מדען - ז

शुक्रगुज़ार

אסיר תודה

शोर-शाराबा

רעש, מהומה - ז

शौहर

בעל - ז

संगठन

ארגון - ז


29.

 

चौदह साल बाद जब गांधी परिवार में शहनाई गूंजी, तो उम्मीद थी कि ख़ुशी के इस मौके पर अतीत की करवाहट अतीत बन जाएगी। होता भी क्यों न? गांधी परिवार में बरसों बाद बहू आयी है। वाराणसी में वरुण गांधी और यमिनि की धूम-धाम से शादी हुई। उम्मीद थी कि नयी बहू के कदम गांधी ख़ानदान की दो बहुओं के परिवार के बीच की तल्खी को खत्म कर देंगे, सोन्या गांधी और मैनका गांधी की परिवार की अगली पीढ़ी नये रिश्ते का आगाज़ करेगी। लिहाज़ा, मेहमानों से लेकर शादी में मौजूद हर निगाह सवाल पूछ रही थी कि 'क्या वरुण की नयी ज़िंदगी पर आशीर्वाद देने ताई सोन्या गांधी आएंगी? क्या अपने भाई को बधाई देने राहुल गांधी आएंगे?' माना जा रहा था कि बहन प्रियंका वाड्रा ज़रूर आएंगी। उम्मीद थी कि अतीत की वह करवाहट, जिसके चलते तीन दशक से गांधी परिवार की दो बहुओं की राहें अलग हैं, वरुण की शादी दोस्ती की राह पर ले जाएगी। मगर तल्खी कम नहीं हो पाई।

जिनको आना था सब आए।
वरुण की शादी में उनकी ताई सोन्या गांधी के परिवार से कोई नहीं आया। fracture से परेशान राहुल गांधी के आने की पहले ही उम्मीद नहीं थी। लेकिन प्रियंका का न आना ताअजुब में डाल गया। वरुण से जब वजह पूछी गयी, तो उन्होंने कहा - 'बुखार होने की वजह से प्रियंका शादी में नहीं आ पाई।' भाई और ताई के न आने की उम्मीद तो वरुण गांधी को भी थी, लेकिन वरुण गांधी की आंखें बहन प्रियंका गांधी का इंतिज़ार कर रही थीं। दोनों परिवारों में रिश्ते की डोर वरुण और प्रियंका के बीच का रिशता है। लेकिन लगता है, सियासी हताश के साथ साथ इन दोनों परिवारों के बीच की यह डोर भी कमजोर होती जा रही है। प्रियंका नहीं आयी। लेकिन उन्नीस सौ सतानवे में उनकी और रॉबर्ट वॉड्रा की शादी में वरुण मौजूद थे। अपनी शादी का न्यौता देने वह खुद सोन्या गांधी के घर गये थे। लिहाज़ा, गांधी परिवार से किसी के न पहुंचने से उन्हें निराशा ज़रूर हुई होगी। 

शहनाई - כלי נשיפה (משתמשים בו בחתונות)
करवाहट - מרירות
बहू - כלה (אשתו של בן)
ख़ानदान = परिवार
तल्खी = करवाहट
पीढ़ी -- דור
आगाज़ -- התחלה
लिहाज़ा -- ובכן
निगाह -- מבט
आशीर्वाद - ברכה 
ताई - דודה (אשתו של האח הגדול)
के चलते - נוכח
दशक - עשור
ताअजुब - תמיהה
डोर - חוט
हताश - ייאוש 
कमजोर - חלש 
न्यौता - הזמנה
निराशा - אכזבה